LAXMI NARAYAN YOG 2022 : बुध – शुक्र युति से बन रहा है “लक्ष्मी नारायण योग”, इन राशियों के धन में होगी वृद्धि।

शुक्र ग्रह का गोचर 18 जून 2022 को वृषभ राशि में सुबह 8 बजकर 6 मिनट पर हो गया है। वृषभ राशि में बुध ग्रह पहले से ही विराजमान है। ऐसे में एक ही राशि में दो ग्रहों के आने से खास योग बनेगा। वृष राशि में बुध और शुक्र की युति से लक्ष्मी नारायण योग बनेगा। इसको महालक्ष्मी योग भी कहा जाता है।ज्योतिष में ग्रहों की युति को बेहद महत्वपूर्ण माना जाता है। इस योग को बेहद ही शुभ माना जाता है।

मेष राशि: 

आप लोगों की गोचर कुंडली में लक्ष्मी नारायण योग दूसरे भाव में बनेगा। जिसको धन और वाणी का स्थान कहा जाता है। इसलिए इस समय आपको आकस्मिक धन की प्राप्ति हो सकती है। व्यापार में अच्छा धनलाभ हो सकता है। अगर आपका पैसा कही अटका हुआ है तो वो इस दौरान आपको मिल सकता है। आर्थिक स्थिति में सुधार देखने को मिलेगा। जिन लोगों का कार्यक्षेत्र वाणी से जुड़ा हुआ है तो यह समय शानदार रहने वाला है।

सिंह राशि: 

आप लोगों की राशि से लक्ष्मी नारायण योग दशम भाव में बनेगा, जिसे नौकरी और कार्यक्षेत्र का स्थान माना जाता है। इसलिए इस समय आपको नई नौकरी का प्रस्ताव आ सकता है। साथ ही आपको बिजनेस में अच्छा धनलाभ हो सकता है। नए ऑर्डर प्राप्त हो सकते हैं। अगर आप नौकरी कर रहे हैं तो आपका इंक्रीमेंट और प्रमोशन हो सकता है। इस दौरान मां लक्ष्मी की कृपा आप पर बनी रहेगी।

कर्क राशि: 

लक्ष्मी नारायण योग आपकी राशि से 11वें भाव में बनेगा। जिसे इनकम और आय का स्थान कहा जाता है। इसलिए इस दौरान आपकी आय में बढ़ोतरी देखने को मिलेगी। साथ ही इनकम के नए- नए स्त्रोत भी बनेंगे। व्यापार में अच्छा धनलाभ होगा। कोई बड़ी डील फाइनल हो सकती है, जिससे भविष्य में आपको अच्छा धनलाभ होगा। इस दौरान मां लक्ष्मी आप पर मेहरबान रहेंगी।

अधिक जानकारी के लिए सम्पर्क करे :8800983396