23 जुलाई को हरियाली तीज , देवी पार्वती को प्रसन्न करने के लिए करें ये उपाय।

श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया तिथि को हरियाली तीज का पर्व मनाया जाता है। कुछ स्थानों पर इसे मधुश्रवा तीज भी कहते हैं। इस पर्व को मां पार्वती और शिव के मिलन की याद में मनाया जाता है। इस बार हरियाली तीज का पर्व 23 जुलाई, गुरुवार को है।

इस दिन महिलाएं मां पार्वती की पूजा करती हैं। नवविवाहिताएं अपने पीहर आकर यह त्योहार मनाती हैं। इस दिन व्रत रखा जाता है तथा विशेष श्रंगार किया जाता है। राजस्थान में महिलाएं लहरिया नामक ओढ़नी पहनती हैं। हाथों में मेंहदी लगाती हैं और घर में पकवान बनाए जाते हैं।

युवतियां इस दिन झूला झूलती हैं और सावन के मधुर गीत गाती हैं। राजस्थान में घूमर आदि विशेष नृत्य करने की परंपरा भी है। राजस्थान के जयपुर नगर में इस दिन तीज माता की सवारी निकाली जाती है और मेला भी लगता है। इस दिन कुछ आसान उपाय करने से देवी पार्वती प्रसन्न होती हैं।

krishnastrosolutions

उपाय:

  • हरियाली तीज पर 11 नवविवाहित लड़कियों को सुहाग की सामग्री जैसे- सिंदूर, मेहंदी, चूड़ी, काजल, लाल चुनरी आदि भेंट करें।
  • हरियाली तीज पर पत्नी चावल की खीर बनाए और इसका भोग माता पार्वती को लगाएं। बाद में पति-पत्नी साथ में ये खीर खाएं तो दांपत्य जीवन में खुशहाली आती है।
  • इस दिन पति-पत्नी सुबह उठकर स्नान आदि करने के बाद किसी शिव-पार्वती मंदिर में जाएं और लाल फूल चढ़ाएं।
  • हरियाली तीज पर माता पार्वती का अभिषेक दूध में केसर मिलाकर करें। इससे भी पति-पत्नी में प्रेम बना रहता है।
  • माता पार्वती को लाल रंग की चुनरी, लाल चूड़ियां, सिंदूर, मेहंदी आदि सुहाग की सामग्री अर्पित करें।

 

अधिक जानकारी के लिए सम्पर्क करे : 9821314408, 9821314409