Papmochani ekadashi 2020: कब है पापमोचनी एकादशी? जानें पूजा विधि और शुुभ मुहूर्त |

हिंदू पंचाग के अनुसार साल में कुल 24 एकादशी होती है। हर माह में 2 एकादशी पड़ती हैं, एक कृष्ण पक्ष में और एक शुक्ल पक्ष में। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार एकादशी का बहुत अधिक महत्व होता है। इस दिन भगवान विष्णु की पूजा-अर्चना की जाती है |

krishnastrosolutions

कब है पाप मोचनी एकादशी:

19 मार्च, गुरुवार

पूजा विधि:

  • एकादशी से एक दिन पहले सात्विक भोजन करें।
  • सुबह जल्दी उठ कर स्नान करें।
  • स्नान के बाद व्रत का संकल्प लें और विधि-विधान से विष्णु भगवान की पूजा करें।
  • मोह-माया से दूर रहकर इस दिन भजन-र्कीतन करने चाहिए।
  • दिनभर भगवान विष्णु का घ्यान करें।
  • पूरा दिन व्रत रखने के बाद शाम को भगवान विष्णु की पूजा करें और अपनी इच्छानुसार उन्हें भोग लगाएं।
  • एकादशी के दिन विष्णुसहस्त्रनाम का पाठ करने से विशेष फल की प्राप्ति होती है।

शुुभ मुहूर्त:

पारण मुहूर्त-

  • 20 मार्च को दोपहर 1 बजकर 41 मिनट से शाम 4 बजकर 7 मिनट तक।

हरिवास समाप्त होने का समय

  • 20 मार्च 12 बजकर 30 मिनट पर।

अधिक जानकारी के लिए सम्पर्क करे :9810527992 ,9821314408