दशहरा, करवा चौथ, धनतेरस, दीपावली और छठ पूजा 2019, जानें सभी का शुभ मुहूर्त |

भारत को त्योहारों की भूमि कहा जाता है। देश के कोने कोने में त्योहारों के समय धूम रहती है। अभी देश में नवरात्रि का पर्व उल्लास के साथ मनाया जा रहा है। नवरात्रि से लगभग एक महीने तक त्योहारों की ही धूम रहती है। त्योहारों के इस मौसम में हमें इन बातों की जानकारी रहनी ही चाहिए की कब कौन सा त्योहार है और उनके शुभ मुहूर्त क्या है। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार पूजा शुभ मुहूर्त पर करने से ही लाभ मिलता है।

krishnastrosolutions

दुर्गा विसर्जन :

दुर्गा पूजा उत्सव यानि नवरात्रि का समापन दुर्गा विर्सजन के साथ होता है। दुर्गा विसर्जन का मुहूर्त प्रात:काल या अपराह्न काल में विजयादशमी तिथि लगने पर शुरू होता है। इसलिए प्रात: काल या अपराह्न काल में जब विजयादशमी तिथि व्याप्त हो, तब मां दुर्गा की प्रतिमा का विसर्जन किया जाना चाहिए। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार यदि श्रवण नक्षत्र और दशमी तिथि अपराह्न काल में एक साथ व्याप्त हो, तो यह समय दुर्गा प्रतिमा के विसर्जन के लिए सबसे श्रेष्ठ माना जाता है।

krishnastrosolutions

कब है दुर्गा विसर्जन:

इस साल दुर्गा विसर्जन 8 अक्टूबर मंगलवार के दिन है।

शुभ मुहूर्त:

06:17:33 से 08:37:59 तक
समय: 2 घंटे 20 मिनट

दशहरा :

दशहरा पर्व अश्विन माह के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है। यह पर्व असत्य पर सत्य की जीत का प्रतीक है। धार्मिक ग्रंथो के अनुसार इसी दिन भगवान राम ने रावण का वध किया था। कुछ स्थानों पर इस त्यौहार को विजयादशमी के रूप में भी जाना जाता है। दशमी तिथि को अपराह्न काल में सूर्योदय के बाद दसवें मुहूर्त से लेकर बारहवें मुहूर्त तक दशहरा मनाने की परंपरा है।

krishnastrosolutions

कब है दशहरा :

इस साल 8 अक्टूबर मंगलवार को दशहरा का पर्व मनाया जाएगा।

दशहरा शुभ मुहूर्त:

विजय मुहूर्त
– दिन में 14:05:40 से 14:52:29 तक
अपराह्न मुहूर्त 
– दिन में 13:18:52 से 15:39:18  तक

करवा चौथ:

करवा चौथ प्यार और उत्साह का त्योहार है और हर महिला के लिए बहुत पूजनीय होता है। करवा चौथ के व्रत में शिव, पार्वती, कार्तिकेय, गणेश के साथ चंद्रमा की भी पूजा करने का विधान है। इस दिन सुहागिन स्त्रियां अपने पति के लिए व्रत रखती है। यह निर्जला व्रत होता है और चंद्रमा को अर्घ्य देने के बाद पति को छलनी में दीपक रख कर देखा जाता है।इसके बाद पति जल पिलाकर पत्नी के व्रत को तोड़ता है।

कब है करवा चौथ:

इस साल करवा चौथ गुरुवार 17 अक्टूबर 2019 को है।

करवा चौथ पूजा शुभ मुहूर्त

17:50:03 से 18:58:47 तक

करवा चौथ चंद्रोदय समय 

20:15:59

धनतेरस :

धनतेरस का पर्व कार्तिक माह में कृष्ण पक्ष की त्रयोदशी को मनाया जाता है। धनतेरस को धन त्रयोदशी व धन्वंतरि जंयती के नाम से भी जाना जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस दिन धन्वंतरि देव समुद्र मंथन से अमृत कलश लेकर प्रकट हुए थे। धन्वंतरि देव जब समुद्र मंथन से प्रकट हुए थे तो उस समय उनके हाथ में अमृत कलश था। इसी वजह से धनतेरस के दिन बर्तन खरीदने की परंपरा है। धनतेरस के त्योहार से ही दीपावली की शुरुआत होती है।

 

krishnastrosolutions

कब है धनतेरस :

इस साल धनतेरस का पर्व 25 अक्टूबर शुक्रवार को मनाया जाएगा।

शुभ मुहूर्त :

शाम 19:10:19 से 20:15:35 तक
प्रदोष काल
17:42:20 से 20:15:35 तक
वृषभ काल
18:51:57 से 20:47:47 तक

अधिक जानकारी के लिए सम्पर्क करे :9810527992 ,9821314408