सर्वपितृ अमावस्या पर पितरों की तृप्ति के लिए करें ये 7 सरलतम उपाय |

9 अक्टूबर को पितृमोक्ष अमावस्या है। श्राद्ध पक्ष में यह अमावस्या बहुत ही महत्वपूर्ण होती है। इस दिन सभी ज्ञात-अज्ञात पितरों के निमित्त श्राद्ध किया जा सकता है, लेकिन कुछ ऐसे सामान्य उपाय भी हैं जिनके करने से आप अपने पितृगणों को संतुष्ट कर सकते हैं।

krishnastrosolutions

आइए जानते हैं कि पितृमोक्ष अमावस्या वाले दिन पितरों की तृप्ति के लिए कौन से उपाय किए जाने चाहिए |

  •  पितृमोक्ष अमावस्या वाले दिन प्रात:काल पीपल के पेड़ के नीचे अपने पितरों के निमित्त घर का बना मिष्ठान व पीने योग्य शुद्ध जल की मटकी रखकर धूप-दीप जलाएं।

  • पितृमोक्ष अमावस्या वाले दिन ‘कुतप-काल’ बेला में अपने पितरों के निमित्त गाय को हरी पालक खिलाएं।

  • पितृमोक्ष अमावस्या वाले दिन प्रात:काल तर्पण अवश्य करें।

  • पितृमोक्ष अमावस्या वाले दिन किसी मंदिर में या ब्राह्मण को ‘आमान्य दान’ अवश्य करें।

  • पितृमोक्ष अमावस्या वाले दिन अपने पितरों के निमित्त चांदी का दान अवश्य करें।

  • पितृमोक्ष अमावस्या को सूर्यास्त के पश्चात घर की छत पर दक्षिणाभिमुख होकर अपने पितरों के निमित्त तेल का चौमुखा दीपक रखें।

  • पितृमोक्ष अमावस्या के अवसर अपने पितरों के निमित्त जरूरतमंदो को यथायोग्य दान अवश्य दें।

अधिक जानकरी के लिए सम्पर्क करे :9810527992 ,7011200192